Desh Bhakti Shayari Hindi देशभक्ति शायरी

देश भक्त लोगो के लिए प्रस्तुत है वतन परस्ती शायरी का बहुत बड़ा कलेक्शन "Desh Bhakti Shayari Hindi देशभक्ति शायरी " शीर्षक के अंतर्गत ।

देशभक्ति शायरी हिंदी में :-

कुछ नशा तिरंगे की आन का है ! कुछ नशा मातृभूमि की शान का है !
हम लहराएंगे हर जगह ये तिरंगा ! नशा ये हिंदुस्तान की शान का है..!!

Shahid shayari :-

बस ये बात हवाओं को बताये रखना,
रौशनी होगी चिरागों को जलाये रखना,
लहू देकर जिसकी हिफाज़त की शहीदों ने,
उस तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना... जय हिन्द ।।


Tiranga shayari in hindi :-

मुझे तन चाहिए , ना मुझे धन चाहिए,
बस अमन से भरा मेरा वतन चाहिए,
जिन्दा रहूं तो इस मातृ-भूमि के लिए,
और जब मरू तो तिरंगा कफ़न चाहिये... जय हिन्द ।।

Kargil vijay diwas quotes :-

जिन्हें है प्यार वतन से, वो देश के लिए अपना लहू बहाते हैं,
माँ की चरणों में अपना शीश चढ़ाकर, देश की आजादी बचाते हैं,
देश के लिए हँसते-हँसते अपनी जान लुटाते हैं... जय हिन्द ।।

Deshbhakti Hindi Shayari -

आओ झुकर सलाम करे उनको जिनके हिस्से मे ये मुकाम आता है,
खुसनसीब है वो खून जा देश के काम आता है..!!

Love Desh Bhakti Shayari -

कभी सनम को छोड़ के देख लेना, कभी शहीदों को याद करके देख लेना,
कोई महबूब नहीं है वतन जैसा यारो, देश से कभी इश्क करके देख लेना..!!

Best Shayari for Desh Bhakti -

कर जस्बे को बुलंद जवान, तेरे पीछे खड़ी आवाम।
हर पत्ते को मार गिरायेंगे, जो हमसे देश बटवायेंगे..!!

Latest Deshbhakti Sms -

ज़माने भर में मिलते हैं आशिक कई,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता,
नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हैं शासक कई,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता..!!

Patriotic Shayari in Hindi - 

जब देश में थी दिवाली, वो खेल रहे थे होली ।
जब हम बैठे थे घरो में, वो झेल रहे थे गोली ।।
क्या लोग थे वो अभिमानी, है धन्य उनकी जवानी ।
जो शहीद हुए है उनकी, ज़रा याद करो कुर्बानी ।।
ए मेरे वतन के लोगो, तुम आँख में भर लो पानी..!!

Latest Shayari on Desh Bhakti -

सीनें में ज़ुनू, ऑखों में देंशभक्ति, की चमक रखता हुँ,
दुश्मन के साँसें थम जाए, आवाज में वो धमक रखता हुँ..!!

देश भक्ति शायरी सुविचार - 

करता हूँ भारत माता से गुजारिश कि तेरी भक्ति के सिवा कोई बंदगी न मिले,
हर जन्म मिले हिन्दुस्तान की पावन धरा पर या फिर कभी जिंदगी न मिले..!!

Desh Prem Desh Bhakti Shayari in Hindi -

भारत देश हमको जान से प्यारा है,
हिन्दुस्तानी नाम हमारा है।
न ठण्ड में गलें, न तुफानो से डरें, न गर्मी से तपें ।
हम फौजी इस देश की शान है..!!

Indian army hindi shayari :-

उनके हौसले का भुगतान क्या करेगा कोई ?
उनके बलिदान का कर्ज देश पर उधर है,
आप और हम इसलिए खुशहाल है क्योकि,
सीमा पर सपूत बलिदान को तैयार है... जय हिन्द ।।

Indian army quotes in hindi :-

है लिये हथियार दुश्मन ताक में बैठा उधर,
और हम तैयार हैं सीना लिये अपना इधर।
खून से खेलेंगे होली अगर वतन मुश्किल में है,
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है... जय हिन्द ।।

Deshbhakti shayri :-

हर वक़्त मेरी आँखों में धरती का स्वपन हो,
जब कभी मरू तो तिरंगा ओढ़ सोता रहु,
और कोई इच्छा नहीं ज़िन्दगी में,
जब कभी जन्म मिले तो हिंदुस्तान मेरा वतन हो... जय हिन्द ।।

Shahid jawan shayari in hindi :-

मत रो बहन ! हम शर्मिंदा हैं,
हिंदुस्तान के कई घरों मे अब भीं देशद्रोही जिंदा हैं,
आस्तीन के सांप अभी राजनीती और मीडिया में जिन्दा है,
शहादत को दुनिया सलाम करती है... जय हिन्द ।।

देश भक्ति शायरी स्टेटस -

आन देश की शान देश की,  देश की हम संतान हैं।
तीन रंगों से रंगा तिरंगा, अपनी ये पहचान हैं..!!

Desh bhakti quotes in hindi :-

मेरी महफ़िल है, मेरा सेहरा है, मेरा कफ़न है, वतन मेरा,
एक ज़िन्दगी नहीं,
हर जनम वारं दूँ, अपने हिन्दुस्तान पर... जय हिन्द ।।

Desh bhakti patriotic shayari
खुशी से भारत को आबाद करना,
और गम को भारत से आजाद करना,
हमारी बस इतनी गुजारिश है कि,
शहीदो को भी हमेशा याद रखन... जय हिन्द ।।

Desh bhakti shayari :-

वतन के लिए जो फ़ना हो गए हैं
तिरंगा उन्हीं की सुनाता कहानी.....
किया दिल से हर फैसला ज़िंदगी का
कोई बात समझी, न बूझी, न जानी....

Desh bhakti patriotic poems kavita :-

ऐ वतन ऐ वतन,
हमको तेरी कसम !!
फूल क्या चीज है,
तेरे कदमो मे हम !!
भेंट अपने सरो की चढ जाएंगे॥




देशभक्ति शेर शायरी :-

मै रहू या ना रहू पर ये वादा है तुमसे मेरा कि,
"मेरे बाद वतन पर मरने वालो का सैलाब आयेगा"
देशभक्ति शेर शायरी

Shaheed shayari in hindi :-

अधिकार मिलते नहीं लिए जाते है,
आजाद है मगर गुलामी किये जाते है,
वंदन करो उन वीरो का,
जो मौत को आँचल मैं लिए जाते है... जय हिन्द ।।

Shahid jawan shayari in hindi :-

ऐ मेरे वतन के लोगों, ज़रा आँख में भर लो पानी,
जो शहीद हुये हैं उनकी, ज़रा याद करो कुर्बानी... जय हिन्द ।।

देश भक्ति शायरी हिन्दी :-

कोई 'हस्ती' कोई 'मस्ती' कोई 'चाह'* पे मरता है,
कोई 'नफरत' कोई 'मोहब्बत' कोई 'लगाव' पे मरता है,
ये "देंश" है उन 'दिवानों' का जहाँ हर बन्दा अपने "हिंदुस्तान" पे मरता है... जय हिन्द ।।

Hindi poem on desh bhakti :-

केसर की क्यारी में तुमको ईद मनाने ना देंगे,
कश्मीर में कौमी ध्वज तुम्हे फहराने ना देंगे,
ढाका की मलमल दे दी पर माँ का चीर ना देंगे,
लाशों से पाट देंगे तेरी धरती पर कश्मीर ना देंगे... जय हिन्द ।।

Shayari desh bhakti :-

जो हिंदुस्तान को नमन करना छोड दे,
वो देशद्रोही हमारा वतन छोड़ दे,
मजहब प्यारा है पर वतन नही,
वो देश की मिटटी में दफ़न होना छोड़ दे... जय हिन्द ।।

गणतंत्र दिवस, 26 जनवरी शायरी, मैसेज:-

Patriotic shayari :-

दिल में तूफां आँखों में दरिया लिए बैठें हैं,
ना पूछो हमसे कहानी हमारी,
हम अपनी पूरी जिंदगी वतन के नाम किये बैठें हैं... जय हिन्द ।।

Desh bhakti status  :-

कर चले हम फिदा जाने तन साथियो,
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियो... जय हिन्द ।।

देश भक्ति शायरी इन हिंदी :-

खून से खेलेंगे होली,
अगर वतन मुश्किल में है,
सरफ़रोशी की तमन्ना,
अब हमारे दिल में है,
देश भक्ति शायरी इन हिंदी


Indian Desh Bhakti Shayari in Hindi Font Shero Shayari :-

खुशनसीब हैं वो जो वतन पर मिट जाते हैं,
मरकर भी वो लोग अमर हो जाते हैं,
करता हूँ उन्हें सलाम ए वतन पे मिटने वालों,
तुम्हारी हर साँस में तिरंगे का नसीब बसता है…

Desh Bhakti Shayari Patriotic Shayari :-

सारे जहाँ से अच्छा हिंदुस्तान हमारा,
हम बुलबुलें हैं उसकी वो गुलसिताँ हमारा।
परबत वो सबसे ऊँचा,
हमसाया आसमाँ का,
वो संतरी हमारा वो पासबाँ हमारा,

Heart Touching Desh Bhakti Shayari Lines in Hindi :-

संस्कार और संस्कृति की शान मिले ऐसे,
हिन्दू मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले ऐसे
हम मिलजुल के रहे ऐसे की
मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में राम मिले जैसे.

Shero shayari on desh bhakti :-

वतन हमारा मिसाल है मोहब्बत की,
तोड़ता है दीवार नफरत की,
मेरी खुश नसीबी है मिली जिंदगी इस चमन में
,भुला ना सके कोई इसकी खुशबू सातों जन्मों में..!!

Desh bhakti status in hindi for whatsapp :-

तिरंगा हमारा हैं शान- ए-जिंदगी
वतन परस्ती हैं वफ़ा-ए-ज़मी
देश के लिए मर मिटना कुबूल हैं हमें
अखंड भारत के स्वपन का जूनून हैं हमें..!!

Desh bhakti shayari in hindi :-

अलग है भाषा धर्म जात
और प्रान्त भेष परिवेश..
पर हम सब का एक ही है गौरव
राष्ट्रध्वज तिरंगा सर्वश्रेष्ठ।।

Desh bhakti shayari watan shayari hindi :-

मेरी नन्ही सी चिड़िया को चहकता छोड़ के आया हूँ.....
मुझे छाती से अपनी तू लगा लेना ऐ भारत माँ,
में अपनी माँ की बाहों को तरसता छोड़ के आया हूँ....

Desh bhakti deshbhakti shayari in hindi :-

कायरों के हाथ में कभी राज नहीं होता....!
झुके हुए सर पर कभी ताज नहीं होता....!
खानी पड़ती है सीने पर गोलियां ,चरखा चलाने से कभी इन्कलाब नहीं होता!!!"
अरे.. जीने को तो जी ही लेते हैं सभी ...
लेकिन.. देश के लिए मरने वालो का कोई जबाब नहीं होता...!

Watan shayari :-

वतन के लिए जो फ़ना हो गए हैं
तिरंगा उन्हीं की सुनाता कहानी.....
किया दिल से हर फैसला ज़िंदगी का
कोई बात समझी, न बूझी, न जानी....

Desh bhakti shayari hindi language :-


उनके हौसले का भुगतान क्या करेगा कोई ?
उनके बलिदान का कर्ज देश पर उधर है,
आप और हम इसलिए खुशहाल है क्योकि,
सीमा पर सपूत बलिदान को तैयार है... जय हिन्द ।।

Desh bhakti quotes in hindi :-

वतन से मत तोल मोहब्बत मेरी,
जब सजदा करता हूँ, तो इस वतन की जमीं को चूम लेता हूँ... जय हिन्द ।।

Desh bhakti shayari hindi me :-

क्या ये देश उन्हीं का है जो सीमा पर मर जाते हैं ?
अपना खून बहाकर टीका सरहद पर कर जाते हैं।
ऐसा युद्ध वतन की खातिर सबको लड़ना पड़ता है।
संकट की घड़ियों में सबको सैनिक बनना पड़ता है
जो भी कौम वतन की खातिर मरने को तैयार नहीं।
उसकी संतति को आजादी जीने का अधिकार नहीं... जय हिन्द ।।

Mera bharat mahan poem in hindi :-

जिस मिट्टी मेँ जन्मे उस मिट्टी की शान बनो,
अगर कुछ करना है वतन के लिये तो,
तुम "APJ कलाम" बनो... जय हिन्द ।।


Desh bhakti shayari bhagat singh :-

ऐ मेरे वतन के लोगों, तुम खूब लगा लो नारा
ये शुभ दिन हैं हम सब का, लहरा लो तिरंगा प्यारा.....

Shero shayari on desh bhakti deshbhakti :-

ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नारा
ये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारा
पर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाए
कुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर न आये....

Deshbhakti shayari :-

मुझे तन चाहिए , ना धन चाहिए
बस अमन से भरा यह वतन चाहिए
जब तक जिन्दा रहूं,इस मातृ-भूमि के लिए
और जब
मरू तो तिरंगा कफ़न चाहिये...जय-हिन्द

Deshbhakti shayari bhagat singh :-

"लिख रहा हूं मै अजांम जिसका कल आगाज आयेगा,
मेरे लहू का हर एक कतरा इकंलाब लाऐगा,

Hindi desh bhakti kavita hindi language :-

मेरे देश के असली हिरों जिन पर मुझे हमेशा गर्व रहता हैं जय हिन्द् जय माँ भारती !!
कभी ठंड में ठिठुर के देख लेना ,
कभी तपती धुप में जल के देख लेना,
कैसे होती हैं हिफाजत मुल्क की,
कभी सरहद पर चल के देख लेना,
कभी दिल को पत्थर कर के देख लेना,
कभी अपने जज्बातों को मार के देख लेना,
कैसे याद करते हैं मुझे मेरे अपने,
कभी अपनों से दुर रह के देख लेना,
कभी वतन के लिये सोच के देख लेना,
कभी माँ के चरण चूम के देख लेना,
कितना मजा आता हैं मरने में यारों,
कभी मुल्क के लिये मर के देख लेना,
कभी शनम को छोड़ के देख लेना,
कभी शहीदों को याद कर के देख लेना,
कोई महबूब नहीं हैं वतन जैसा यारों,
मेरी तरह देश से कभी इश्क करके देख लेना !!

Watan shayari - desh bhakti shayri :-

मरना है तो वतन के लिए मरो...
कुछ करना है तो वतन के लिए करो..
अरे टुकड़ों में तो बहुत जी लिया..
अब जीना है तो मिल कर वतन के लिए जियो..
जय हिंद !!!

Desh bhakti quotes in hindi :-

वतन के रखवाले हैं हम,
शेर -ए-जिग़र वाले हैं हम,
मौत से हमें क्यों डर लगेगा ?
मौत को बाँहों में पाले हैं हम,
जय हिन्द वन्दे मातरम...

टिप्पणियाँ

  1. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  2. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  3. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  4. very important information you have given through this awesome post, keep doing the good work always, also read Funny, Cool WhatsApp Group Names

    जवाब देंहटाएं
  5. गीले चावल में शक्कर क्या क्या गिरी,
    तुम भिखारी खीर समझ बैठे,
    चंद कुत्तो ने पाकिस्तान जिंदाबाद क्या बोला,
    तुम कश्मीर को अपने बाप की ज़ागीर समझ बैठे...

    जवाब देंहटाएं
  6. अपनी आजादी को हम हरगिज मिटा सकते नही !
    सर कटा सकते हैं, लेकिन सर झुका सकते नही...

    जवाब देंहटाएं
  7. चलो फिर से आज वो नजारा याद कर लें,
    शहीदों के दिल में थी वो ज्वाला याद करले,
    जिसमे बहकर आज़ादी पहुची थी किनारे पे,
    देशभक्तों के खून की वो धरा याद कर लें

    जवाब देंहटाएं
  8. वक्त आ गया हैं अब, दुनिया से साफ़ साफ़ कहना होगा
    देश प्रेम की प्रबल धारा में सबको बहना होगा
    जिसे तिरंगा लगे पराया, मेरा देश छोड़ के जाना होगा
    हिंदुस्तान में हिंदुस्तानी बनकर ही रहना होगा...

    जवाब देंहटाएं
  9. किसी गजरे की खुशबु को महकता छोड़ आया हूँ,
    मेरी नन्ही सी चिड़िया को चहकता छोड़ आया हूँ,
    मुझे छाती से अपनी तू लगा लेना ऐ भारत माँ,
    मैं अपनी माँ की बाहों को तरसता छोड़ आया हूँ।
    जय हिन्द..

    जवाब देंहटाएं
  10. बर्फ के पहाड़ों पर आग सा जलता है,
    रेत के रेगिस्तान में वो हिम सा ठहरता है।
    एक फौजी ही तो है साहब,
    जो देश पे मर कर भी जिंदगी जी जाता हैं...

    जवाब देंहटाएं
  11. लड़े जंग वीरों की तरह,
    जब खून खौल फौलाद हुआ।
    मरते दम तक डटे रहे वो,
    तब ही तो देश आजाद हुआ ।।

    जवाब देंहटाएं
  12. हजारो शत्रु आये पर, पर हमको कौन जीता है,
    कभी हिम्मत के दौलत से न हमारा हाथ रीता है,
    वंशज है भरत के हम, धर्म पर मर-मिटने वाले,
    हथियार एक हाथ में थामे तो दूजे हाथ में गीता है… जय हिन्द ।।

    जवाब देंहटाएं
  13. शहीदों के त्याग को हम बदनाम नही होने देंगे,
    भारत की इस आजादी की कभी शाम नही होने देंगे।

    जवाब देंहटाएं





  14. अपहरण कर कोठे की रंडी बनाया 18 साल की लड़की को Indian Desi Porn



    मालिक ने ब्लैकमेल करके चोद डाला मजबूर नौकरानी को Indian Sex Video



    कश्मीरी कन्या की चुदाई पुलिस वाले ने करी अश्लील पोर्न वीडियो



    खूबसूरत कश्मीरी कन्या के बलात्कार का अश्लील XXX पोर्न वीडियो



    दारू के नशे में माँ ने ग्रुप में चुदवाया Indian Desi Porn Video



    कुंवारी लड़की की खेत में चुदाई इंडियन देसी XXX पोर्न विडियो



    भाभी ने ग्रुप में चुदवाया भैया के शराबी दोस्तों से Indian Porn Video



    कुतिया बनाकर गर्लफ्रेंड की भयंकर चुदाई करते हुए Indian Porn Video



    इंडियन हिंदी फिल्म एक्ट्रेस दिशा पटानी की दर्द भरी चुदाई XXX Story



    माँ को पडोसी मर्दों से चुदवाते देख मैंने भी चोदा हिंदी संभोग कहानी





    जवाब देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें